सैटेलाइट टीवी

सूचना प्रौद्योगिकी दी दुनिया च सैटेलाइट टीवी कोई ज्ञान-कौशल नेईं रेहा। सैटेलाइट टेलीविजन दी मदद कन्नै तुसेंगी न सिर्फ मते सारे नमें चैनल दिक्खने दा इक अनोखा मौका मिलदा ऐ, सगुआं राष्ट्रीय चैनलें दे प्रसारण दी गुणवत्ता च बी मता सुधार होग।
सैटेलाइट टेलीविजन 21वीं सदी दा इक विशिष्ट शैक्षिक कार्यक्रम ऐ। जेकर तुस टेलीस्पुतनिक पत्रिका - सैटेलाइट ते केबल टेलीविजन पर मासिक प्रकाशन गी चुक्की लैंदे ओ तां तुसें गी पता लग्गी जाग जे साढ़ी धरती दे नेड़े दी कक्षा च कितने उपग्रह रक्खे गेदे न। दरअसल, इस पत्रिका च बड़ी मती गिनतरी च अंतरिक्ष यान थमां उपग्रहें दे इक हिस्से दी गै जानकारी दित्ती गेई ऐ। दरअसल, इन्दे च होर बी मते सारे न ते एह् सारे भू-स्थिर कक्षा च न, जेह्ड़े धरती दे भूमध्य रेखा दे समतल च स्थित न। एह् इकमात्र गोलाकार कक्षा ऐ जिसदी त्रिज्या 35785 किमी ऐ, जित्थें उपग्रह धरती दे पर्यवेक्षक गी गतिहीन लगदा ऐ, बशर्ते जे उपग्रह दे धरती दी धुरी दे चारों-पार घूर्णन दा कोणीय वेग धरती दे अपनी धुरी दे चारों-पार घूमने दे कोणीय वेग कन्नै मेल खांदा ऐ . मतलब जेकर सैटेलाइट डिश गी सैटेलाइट थमां रिसीव करने लेई ठीक ढंगै कन्नै ट्यून कीता गेदा ऐ ते सुरक्षत रूप कन्नै ठीक कीता गेदा ऐ तां भविक्ख च इसदी स्थिति गी ठीक करना जरूरी नेईं होग।
हर यूरोपीय देश अपने टेलीविजन उपग्रहें गी भू-स्थिर कक्षा च रखने दी कोशश करदा ऐ, पर हर कुसै आस्तै पर्याप्त जगह नेईं ऐ। इसलेई "सूरज दे हेठली जगह" दे संघर्ष च उपग्रह बी चिड़ियें दी तर्ज पर "झुंड" च इकट्ठे होंदे न। मसाल आस्तै, उपग्रह दा नांऽ "हॉटबर्ड" दा मतलब ऐ इक नंबर दे नेड़में अंतराल पर (अंतरिक्ष मानकें दे अनुसार) अंतरिक्ष यान (लगभग 100 किमी) जेह् ड़े लगभग 13 डिग्री पूर्व देशांतर दी कक्षा स्थिति पर कब्जा करदे न। चूंकि सारे उपग्रह भूमध्य रेखा दे समतल च होंदे न, इस करी उंदा भौगोलिक अक्षांश शून्य ऐ, ते देशांतर च बक्ख-बक्ख न। प्राइम मेरिडियन, अस याद करदे हां, लंदन तों गुजरदा है ते पश्चिमी ते पूर्वी देशांतर नू अलग करदा है। टेलीविजन उपग्रह गी कक्षा च दित्ते गेदे बिंदु पर धरती दी सतह दे इक खास इलाके दी सेवा करने आस्तै भेजेआ जंदा ऐ, इस करी, इसदा अपना विकिरण पैटर्न होंदा ऐ। चूंकि हर इक अंतरिक्ष यान च केईं ट्रांसपोंडर (रिसीवर-ट्रांसमीटर) स्थापत होंदे न, जिंदे चा हर इक इक स्ट्रीम च केईं टीवी प्रोग्राम प्रसारित करने च समर्थ ऐ, इस करियै प्रसारण चैनलें दी कुल गिनतरी गी दसें च मापा जाई सकदा ऐ। स्पष्टता आस्तै, उपग्रह गी भूमध्य रेखा दे उप्पर रातीं दे आकाश च "स्पॉटलाइट" जां "स्पॉटलाइट" दे समूह दे रूप च कल्पना कीती जाई सकदी ऐ, जेह्ड़ा अपनी "किरणें" कन्नै न्हेरे थमां धरती दी सतह दा इक हिस्सा छीन लैंदा ऐ . इस मामले च "प्रकाशित" सतह दे क्षेत्रफल दे आधार उप्पर हर बीम गी वर्गीकृत कीता जाई सकदा ऐ : संकीर्ण, क्षेत्र, क्षेत्रीय, वैश्विक बगैरा विद्युत चुम्बकीय तरंगें दा उच्चतम घनत्व बीम दे केंद्र च केंद्रत होंदा ऐ। उपग्रह थमां विकिरणित सिग्नल दी शक्ति जित्थै बद्धोबद्ध होंदी ऐ, उत्थै उपग्रह डिश दे थाह् र पर धरती दी सतह उप्पर पुज्जदी ऐ, उत्थै गै एंटीना दे दर्पण दा व्यास उतनी गै घट्ट होई जंदी ऐ। इस फायदे च इक संकीर्ण बीम होंदा ऐ। कवरेज क्षेत्र जिन्ना व्यापक होग, उन्ना गै धरती दी सतह पर बिजली प्रवाह घनत्व घट्ट होग। मसाल आस्तै, कीव च वैश्विक बीम उपग्रह "इंटेलस्टैट 905" दे टीवी प्रोग्राम हासल करने दे क्रम च, 27.5 डिग्री। ज। इसदे थमां दिक्खने आह् ले धरती दी सतह दे पूरे हिस्से गी ढकने आह् ले, घट्ट शा घट्ट त्रै मीटर व्यास आह् ले एंटीना दी लोड़ होंदी ऐ। यूक्रेन दा इलाका, सिद्धांतत:, मते सारे उपग्रहें दी किरणें कन्नै "प्रकाशित" ऐ, पर उंदे च मते सारें शा मती बिजली प्रवाह घनत्व पैदा करदे न। साढ़े आस्तै यूक्रेन दे निवासियें आस्तै सारें शा मती दिलचस्पी आह्ली गल्ल ऐ जे उपग्रह जिंदे थमां राष्ट्रीय टीवी चैनल प्रसारित होंदे न, ते कन्नै गै रूसी टीवी चैनल बी न, जेह्ड़े छोटे-छोटे सैटेलाइट डिशें पर हासल कीते जाई सकदे न।
सैटेलाइट टीवी दा समां खरी चाल्ली बिताया जंदा ऐ, खास करियै इस करी तुसेंगी केबल टीवी थमां मते सारे चैनल दिक्खने दी खुल्ल दित्ती जंदी ऐ। अज्ज सैटेलाइट टीवी दा मानक पैकेज 500 चैनलें दा ऐ! कल्पना करो कि तुआडी टीवी स्क्रीन ते ही विविध जानकारी दा समुंदर होवे!

सैटेलाइट टीवी
सैटेलाइट टीवी
सैटेलाइट टीवी
सैटेलाइट टीवी सैटेलाइट टीवी सैटेलाइट टीवी



Home | Articles

February 4, 2023 05:36:47 +0200 GMT
0.009 sec.

Free Web Hosting